शिवसेना ने BJP पर साधा निशाना, कहा- मोदी के लिए कानून से बड़े नहीं है भगवान राम

New Delhi: बीती शाम प्रधानमंत्री मोदी की ओर से राम मंदिर पर दिए गए बयान पर शिवसेना ने जोरदार निशाना साधा है। दरअसल राम मंदिर को लेकर शिवसेना पिछले काफी दिनों से बीजेपी पर निशाना साध रही है।

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को एक इंटरव्यू में राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया था। प्रधानमंत्री ने कहा था कि पहले मामले में अदालत की सुनवाई खत्म होने दें उसके बाद अध्यादेश पर विचार किया जाएगा। अब उनके इस बयान पर शिवसेना ने जोरदार निशाना साधा है। शिवसेना ने कहा है कि पीएम मोदी के लिए भगवान राम कानून से बड़े नहीं है।

शिवसेना ने निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के लिए भगवान राम कानून से बड़े नहीं है। क्योंकि उन्होंने कहा है कि उनकी सरकार राम मंदिर निर्माण के लिए किसी अध्यादेश पर निर्णय न्यायिक प्रक्रिया समाप्त होने के बाद से ही करेगी। शिवसेना बीजेपी की सहयोगी पार्टी है और उसने अयोध्या में मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने के लिए अध्यादेश लाने की मांग की है।

Shivsena

शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने है कि राम मंदिर तत्काल सुनवाई का मामला नहीं है। मोदी ने भी कुछ अलग नहीं कहा है। मैं उन्हें राम मंदिर मामले पर अपना रुख स्पष्ट करने के लिए बूधाई देता हूं। प्रधानमंत्री अपने बयान में कहते हैं कि हम राम मंदिर के लिए कोई अध्यादेश नहीं लाएंगे। इसका संवैधानिक अर्थ यह है कि भगवान राम कानून से बड़े नहीं है।

शिवसेना ने राम मंदिर मुद्दे को लेकर अपना रुख कड़ा कर लिया है और लगातार पीएम मोदी और बीजेपी को घेरते हुए सवाल खड़े कर रही है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकर ने पिछले महीने महाराष्ट्र के सोलापुर में अपनी रैली में बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी से राम मंदिर मुद्दे पर अपना रुख साफ करने को कहा था।