आलोक वर्मा के जवाब की रिपोर्ट लीक होने पर SC नाराज, कहा-आप में से कोई भी सुनवाई के लायक नहीं

NEW DELHI: Supreme court में CBI निदेशक आलोक वर्मा के सीवीसी रिपोर्ट के जवाब पर सुनवाई को 29 नवंबर को टाल दी हैं। CJI गोगाई इस मामले पर सुनवाई करते हुए कहा कि मामले पर अब अगली सुनवाई 29 नवंबर को होगी। दरअसल, चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने 16 नवंबर की सुनवाई में साफ-साफ शब्दों में कहा था कि आलोक वर्मा CVC की जांच रिपोर्ट पर अपना जवाब एक सील लिफाफे में कोर्ट को सौंपेगे। मकसद ये था कि मामले की जुड़ी जानकारी लीक नहीं होगी। बावजूद इसके आलोक वर्मा का जवाब मीडिया में लीक हो गया।

cbi alok verma

आलोक वर्मा के जवाब के मीडिया में लीक होने को लेकर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई नाराजगी भी जताई। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने वकील से कहा कि लगता है आप में से कोई सुनवाई के लायक नहीं है। साथ ही सवाल कर पूछा कि कोर्ट के आदेश के बावजूद भी आलोक वर्मा के सील लिफाफे में बंद जवाब कैसे लीक हो गया। नाराजगी जताते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 29 नवंबर तक टाल दी हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले 16 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई निदेशक Alok Verma की उस याचिका पर सुनवाई की थी, जिसमें उन पर भ्रष्टाचार के आरोपों के बीच, उन्हें छुट्टी पर भेजने के आदेश को चुनौती दी गई थी। इस सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने आलोक वर्मा से CVC की जांच रिपोर्ट पर 19 नवंबर तक जवाब मांगा था। जिसके चलते आलोक वर्मा ने बंद लिफाफे में कल सुप्रीम कोर्ट को अपना जवाब सौंपा।

वहीं सीबीआई विवाद को लेकर congress अध्यक्ष rahul gandhiने केंद्र में शासित बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि दिल्ली में ‘चौकीदार ही चोर’ नामक एक क्राइम थ्रिलर चल रहा है। नए एपिसोड में CBI के DIG द्वारा एक मंत्री, NSA, कानून सचिव और कैबिनेट सचिव के खिलाफ गंभीर आरोप हैं। वहीं गुजरात से लाया उसका साथी करोड़ों वसूली उठा रहा है। अफ़सर थक गए हैं, भरोसे टूट गए हैं,लोकतंत्र रो रहा है।

Leave a Reply