मायावती के बयान पर राजनाथ का पलटवार, बोले-हिंदू-मुस्लिम के आधार पर राजनीति करना दुर्भाग्यपूर्ण

New Delhi: बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह मुस्लिम वोटों को लेकर मायावती की ओर से दिए गए बयान पर जोरदार निशाना साधा है। दरअसल मायावती ने सहारनपुर की अपनी रैली में कहा था कि मुस्लिम वोट बंटना नहीं चाहिए। अगर आप कांग्रेस को वोट देंगे तो बीजेपी को फायदा पहुंचेगा।

बसपा सुप्रीमों मायावती के इसी बयान पर तंज कसते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि हिंदू मुस्लिम के आधार पर राजनीति करना बड़ा ही दुर्भाग्यपूर्ण हैं। राजनीति धर्म, पंथ और जाति के नाम पर नहीं की जानी चाहिए। स्वस्थ लोकंत्र में ये स्वीकार्य नहीं है।

लालकृष्ण आडवाणी के ऊपर पूछे गए सवाल कि क्या उन्हें सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक जैसे सरकार के निर्णयों की जानकारी थी। इस पर जवाब देते हुए राजनाथ सिंह आडवाणी जी सचेत थे उन्हें इस बारे में सबकुछ पता था।

राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि आडवाणी जी लंबे समय से राजनीति में हैं और वह हम सभी के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं। हमने पाकिस्तान की संप्रुभता का उल्लंघन किए बिना एयर स्ट्राइक जैसे सफल अभियान को अंजाम दिया।

बीजेपी को दो आदमी की पार्टी वाले कांग्रेस के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि यह आधारहीन बयान है। हर पार्टी के अध्यक्ष और उसके प्रधानमंत्री महत्वपूर्ण होते हैं। जब मैं पार्टी का अध्यक्ष था और नरेंद्र मोदी जी प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार थे तो मेरा नाम उनके साथ लिया जाता था। इसमें कोई हैरानी की बात नहीं होनी चाहिए।