PM मोदी का विपक्ष पर निशाना- देश में अनुशासन के साथ चलने वाले लोगों को बताया जा रहा है तानाशाह

New Delhi. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी नेताओं पर जमकर निशाना साधा है। देश में इन दिनों लोकतांत्रिक मूल्यों के हनन और तानाशाही रवैये पर पीएम मोदी ने विपक्ष पर हमला बोला है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि आज देश में अनुशासन की बात करने वालों को अलोकतांत्रिक और तानाशाह बता दिया जाता है।

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू की किताब ‘मूविंग ऑन…मूविंग फारवर्ड’ के विमोचन के मौके पर पीएम ने कहा- वेंकैया जी स्वभाव से किसान हैं। पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी उन्हें उनकी योग्यता के चलते कई अहम मंत्रालय देना चाहते थे, लेकिन वेंकैया जी ने अपने लिए केवल ग्रामीण विकास मंत्रालय का ही आग्रह किया था।

प्रधानमंत्री ने कहा- वेंकैया जी एक अनुशासन प्रिय व्यक्ति हैं। लेकिन आज देश की हालत ऐसी है कि अनुशासन को अलोकतांत्रिक कहा जाने लगा है। अनुशासन का जरा सा आग्रह करने वाले को निरंकुश और तानाशाह बता दिया जाता है, लोग उसे कुछ नाम देने के लिए शब्दकोश खोलकर बैठे रहते हैं।’

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने ‘मूविंग ऑन..मूविंग फारवर्ड’ नाम की एक किताब लिखी है। इस किताब में उन्होंने उपराष्ट्रपति के तौर पर अपने पिछले एक साल के अनुभवों को लिखा है। इस किताब में वेंकैया नायडू द्वारा पिछले एक साल में की गई 27 राज्यों की यात्रा, विभिन्न सम्मेलनों से जुड़े उनके अनुभव और तस्वीरें संकलित की गई हैं।

इस पुस्तक के विमोचन के मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एचडी देवगौड़ा के साथ कई कांग्रेसी नेता भी मौजूद रहे। गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से केंद्र सरकार पर आरोप लग रहा है कि वह लोकतंत्र की रक्षा करने में असमर्थ है और अपने विरोध में उठ रही आवाज़ों को दबाने का प्रयास कर रही है।

हाल ही में महाराष्ट्र पुलिस ने देश के कई सामाजिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया था, जिसके बाद इस बहस ने और जोड़ पकड़ ली। महाराष्ट्र पुलिस का कहना था कि ये सभी सामाजिक कार्यकर्ता किसी खास विचारधारा से प्रेरित हैं और पिछले इस साल 1 जनवरी को महाराष्ट्र के भीमा-कोरेगांव में हुई हिंसा में इन्होंने लोगों को भड़काने की कोशिश की थी।

Leave a Reply