दिल्ली में बंद नहीं होंगे हुक्का बार,NGT ने खारिज की याचिका,प्रदूषण फैलाने वालो में शामिल नहीं

NGT

New Delhi: राजधानी दिल्ली में चल रहे हुक्का बारों को लेकर राष्ट्रीय हरित ट्रिब्यूनल(NGT) गुरुवार को बड़ा आदेश दिया है।

एनजीटी कोर्ट ने दिल्ली में हुक्का बार को बंद कराने के लिए दायर की गई याचिका को खारिज करते हुए कहा कि हुक्का बार को एनजीटी के अंतर्गत प्रदूषण फैलाने वाले कारकों में शामिल नहीं किया जा सकता क्योंकि इससे पर्यावरण में प्रदूषण नहीं फैलता बल्कि यह बंद कमरे में की जाने वाली चीज है।

दिल्ली सरकार ने पिछले साल कई हुक्का बार को बंद कराया था, लेकिन फिर भी दिल्ली में सैकड़ों हुक्का बार अभी चल रहे हैं। ऐसे हुक्का बार के लिए कोर्ट की ओर से आया यह फैसला बेहद राहत भरा है। इस याचिका के खारिज होने और एनजीटी के की ओर से हुक्का को एनजीटी एक्ट में प्रदूषण फैलाने वाली चीजों में शामिल नहीं किए जाने का बाद प्रदूषण के नाम पर दिल्ली में हुक्का बार को बंद करना बेहद मुश्किल होगा।

NGT

एनजीटी ने हालांकि याचिका खारिज करते हुए पर्यावरण और वन मंत्रालय तो यह निर्देश भी दिया कि वह इनडोर एयर पाल्यूशन के संदर्भ में हुक्का प्रभावों की जांच करे और इस मुद्दे पर उचित मानक निर्धारित करे यानि हुक्का बार एनजीटी एक्ट में भले शामिल न हो लेकिन भविष्य में जांच रिपो्र्ट के आधार पर इसमें परिवर्तन किया जा सकता है।

एनजीटी ने यह भी कहा कि शहर मे रेस्त्रा और बारों में हुक्का के इस्तेमाल रोकना उसके न्यायक्षेत्र में नहीं है। इसके अलावा एनजीटी ने यह भी कहा कि पर्यावरण एंव वन मंत्रालय को कोर्ट यह भी सलाह देना चाहेगा कि वायु प्रदूषण के संदर्भ में हुक्का के प्रभावों पर विचार करेंगे। बीजेपी अकाली नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने साल 2017 में एनजीट में याचिका लगाई थी।