9 साल पहले लगाए थे चंदन के एक हजार पौधे, अब होगी गुजरात के अल्केश को 30 करोड़ की कमाई

New Delhi: गुजरात के अल्केश भाई पटेल ने भरूच जिले के हांसोट तालुका के कांटासायण गांव में साल 2010-2011 में चंदन की खेती की थी और आज करीब 9 साल के बाद चंदन के पौधे आज वृक्ष हो गए है। करीब दो एकड़ जमीन में फैले एक हजार पौधे रोपकर चंदन की खेती बनाई गई थी, जिसकी कीमत अब आने वाले समय में 30 करोड़ रुपए से ज्यादा हो गई है।


जब अल्केश पटेल ने खेती शुरू की तो उस दौरान कई तरह की समस्याएं सामने आयी थी। साथ ही मिट्टी में क्षार ज्यादा होने के कारण भी कई तरह की दिक्कते सामने थी। इसके बाद अल्केश पटेल ने नवसारी के कृषि विश्वविद्धालय के विज्ञानी को बुलाकर चंदन की खेती के बारे में जानकारी ली और तब अल्केश अपने खेत में लगे एक हजार चंदन के पेड़ की देखभाल करने लगे।

आज नौ साल बाद अल्केश ने 15 से 20 फीट ऊंचे चंदन के पेड़ देखकर काफी खुश हैं, क्योंकि मौजूदा समय में एक चंदन के पेड़ की कीमत उन्हें करीब 3 लाख के आसपास मिल रही है। वहीं आने वाले समय में अल्पेश एक हजार चंदन के पेड़ों के जरिए 30 करोड़ रुपए कमा सकते हैं।मालूम हो कि दक्षिण गुजरात के कई किसानों ने अल्केश पटेल के निर्देश में अब चंदन की खेती शुरू कर रहे है। साथ ही चंदन की खेती कर रहे पांच हजार किसानों ने एक अलग संघ बनाया है। वहीं आने वाले समय में कर्नाटक सरकार के साथ एमओयू करने की भी तैयारी में है, ताकि कर्नाटक सरकार के जरिए करोड़ों का फायदा इन किसानों को चंदन के पेड के जरिए हो।