BJP और JDU ने मिलकर बोला हमला, कहा- गुजरात में यूपी और बिहार वासियों पर हमले करा रही कांग्रेस

New Delhi: गुजरात में उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों पर हमले करके भगाए जाने के मामले पर राजनीति तेज़ हो गई है। केंद्र और गुजरात राज्य में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (BJP) और उसके सहयोगी दल जनता दल यूनाइटेड (JDU) ने इसके लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है। दोनों पार्टियों ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा है कि कांग्रेस गुजरात में यूपी और बिहार वासियों पर हमले करा रही है।

बिहार में सत्तारूढ़ JDU ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को खुला पत्र लिखकर विधायक अल्पेश ठाकुर को इस पूरे घटनाक्रम के लिए जिम्मेदार बताया। JDU ने गांधी से पूछा कि कांग्रेसियों को बिहार के लोगों से इतनी नफरत क्यों है? हालांकि कांग्रेस ने इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांगा है। इस बीच, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा है कि पुलिस मामले में कार्रवाई कर रही है।

गुजरात में यूपी और बिहार वासियों पर हमले कर उन्हें भगाए जाने को लेकर सियासत तेज़ हो गई है। सत्ताधारी पार्टी BJP ने कहा है कि गुजरात हिंसा के लिए कांग्रेस जिम्मेदार है। पार्टी के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह ने सोमवार को कहा कि यह कांग्रेस की सोची-समझी साजिश है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग पूरे देश को खंडित करने में जुटे हैं। गिरिराज ने कहा कि सब कुछ अल्पेश की सेना कर रही है।

Gujrat Violence aginsht UP and Bihar Peoples

उधर, अल्पेश ने अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि उनके लोग हिंसा को बढ़ने से रोक रहे हैं और पिछले 1-2 दिन में काफी शांति आई है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘हम नहीं चाहते कि राज्य में कोई भारी मुसीबत आए और हम ऐसी किसी भी हरकत को बढ़ावा नहीं देंगे। पाटीदार आंदोलन अनामत समिति (PAAS) के युवा नेता हार्दिक पटेल ने घटना की निंदा करते हुए मांग की है कि अपराधियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए

गुजरात हिंसा को लेकर BJP पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांगा है। गुजरात से राज्य सभा सांसद और कांग्रेस के सीनियर नेता अहमद पटेल ने इस संबंध में कहा है कि सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिए। यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने गुजरात और केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता संजय निरूपम ने कहा BJP पर हमला बोलते हुए कह है कि पीएम के गृह राज्य (गुजरात) में अगर यूपी, बिहार और एमपी के लोगों को मार-मार कर भगाया जा रहा है तो ये याद रखना चाहिए कि एक दिन पीएम को भी वाराणसी जाना है। वाराणसी के लोगों ने उन्हें गले लगाया और पीएम बनाया था।

बता दें कि गुजरात के साबरकांठा जिले में बीते दिन एक 14 माह की मासूम के साथ हैवानियत की ख़बर प्रकाश में आई जिसके बाद वहां मामला गरमा गया। इसके बाद यौन उत्पीड़न के इस मामले में गैर गुजरातियों ख़ास कर यूपी और बिहार वासियों पर वहां के मूल निवासियों ने अपना गुस्सा निकालना शुरू किया। गुजरात के विभिन्न संगठनों ने यूपी और बिहार के लोगों पर हिंसा करके उन्हें राज्य से जबरन बाहर जाने को मजबूर किया। बड़े स्तर फैले हिंसा के इस मामले में अब तक पुलिस ने 342 लोगों को हिरासत में लिया है।