नए साल में हैकर्स का बड़ा अटैक, 77 करोड़ से ज्यादा ईमेल एड्रेस हैक और 2.2 करोड़ पासवर्ड लीक

New Delhi: हैकर्स ने नए सला का स्वागत 77.2 करोड़े से ज्यादा ईमेल और दो करोड़ से ज्यादा पासवर्ड लीक कर किया है।

सिक्योरिटी रिसर्चर ट्रॉय हंट ने इस डाटा लीक का पता लगाकर अपनी वेबसाइट ट्रॉयहंट डॉट कॉम पर डाल दिया है। सिक्योरिटी रिसर्चर ने इसे कलेक्शन हैशटैग 1 के तौर पर पेश किया है। हंट ने कहा कि यह कुल 2,692,818,238 पासवर्ड और ईमेल एड्रेस का डाटा है।

इसे 2008 से अब तक अलग-अलग तरीकों का इस्तेमाल कर दुनिया भर के उपभोक्ताओं से चुराया गया है। बड़ी संख्या में लोगों ने इसकी जानकारी देकर रिसर्च में मदद की। इस कलेक्शन में कुल 87 जीबी डाटा की 12000 फाइलें हैं। हंट ने पुष्टि करते हुए कहा मैंने पाया कि मेरा पर्सनल डाटा पर इस पर था, जो पूरी तरह सही भी था। हालांकि मेरा पासवर्ड़ पुराना था, जिसे मैं कुछ साल पहले इस्तेमाल करता था।

Hackers

यह डाटाबेस हैव बाई बीन प्वांड वेबसाइट पर है। आपको https://www.haveibeenpwned.com पर जाना होगा और अपनी आईडी विंडो में लिखकर एंटर करना होगा। अगर आपकी ईमेल आईडी सुरक्षित है तो गुड न्यूज- नो प्वांज फाउंड लिखकर आ जाएगा। अगर आईडी डाटाबेस में हैं तो ओह नो प्वांड आएगा। अगर आपकी आईडी सेफ नहीं तो तुरंत पासवर्ड और अन्य गोपनीय ब्योरा बदल लें।

ट्रॉय हंट ने आधार की सुरक्षा पर सवाल उठाए थे। सिक्योरिटी रिसर्च ने कहा था कि इसमें 120 करोड़ लोगों की निजी जानकारी होगी, जिसकी शत प्रतिशत सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं है। दावा किया गया था कि देर सवेर इसके लीक होने की खबरें सामने आएंगी।

फेसबुक ने गुरुवार को बताया कि फर्जी खबरों के खिलाफ मुहिम के तहत उसने रूस से जुड़े से सैकड़ों पेज ग्रुप औ अकाउंट हटा दिए हैं। सोशल मीडिया कंपनी ने कहा उसने अपने फेसबुक और इंस्टाग्राम पर दो नेटवर्क पाए जिनका का का तरीका गलता था जिसके बाद यह कार्रवाई की गई।